राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर सुरक्षा बटन, शिकायत पंजीकरण पोर्टल आदि का लोकार्पण किया

71

27 Jan  राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर गुरूवार को रिंग रोड स्थित किसान भवन में महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती रेखा आर्या ने सुरक्षा बटन, शिकायत पंजीकरण पोर्टल, बेटी बचाओ बेटी पढाओ गीत का लोकार्पण किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता स्थानीय विधायक उमेश शर्मा काऊ ने की।

इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती रेखा आर्या ने कहा कि महिलाओं ने अपनी प्रतिभा के बल पर प्रत्येक क्षेत्र में नये आयाम हासिल किये हैं। उन्होंने बालिकाओं से आत्म निर्भर एवं निर्भीकता से कार्य करने की अपेक्षा की। उन्होंने कहा कि महिला ही से संसार का सृजन होता है, उनके बिना मानव समाज की कल्पना करना निरर्थक है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा बालिकाओं के संरक्षण के लिए अनेक कदम उठाये गये हैं तथा इस कडी में आज 03 कार्यक्रम और जुड गये हैं।

उन्होंने आज लाॅंच किये गये she-box पोर्टल के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि महिलाओं को कार्य स्थल पर यौन शोषण/उत्पीड़न के विरूद्ध सुरक्षित वातावरण उपलब्ध कराने हेतु अधिकार दिया गया है। भारत सरकार द्वारा यौन उत्पीड़न के सम्बन्धित शिकायत को आॅनलाईन पंजीकृत कराने के लिये www.shebox.nic.in  प्लेटफार्म तैयार किया गया है, जिसमें कोई भी महिला/ कार्यरत बालिग किशोरी जो किसी संगठन यथा सार्वजनिक, सरकारी एवं निजी क्षेत्र में कार्य करती हो अपने विरूद्ध उक्त वेबसाइट पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकती है। महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न से सम्बन्धित नोडल विभाग होने के कारण सुश्री आरती बलोदी, राज्य परियोजना अधिकारी, महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास, उत्तराखण्ड को राज्य स्तरीय नोडल अधिकारी  she-box  नामित किया गया है एवं जिला स्तर पर जिलाधिकारी/अपर जिलाधिकारी नोडल अधिकारी नामित किये गये है, जो she-box  पर आॅनलाइन रजिस्टर्ड है, एवं अपने जनपदों से सम्बन्धित कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न की शिकायतों का निवारण करेंगें। उक्त वेबसाईट पर दर्ज की गयी शिकायतों को कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न अधिनियम के अनुसार 90 दिनों के अन्दर निस्तारण किया जाना अनिवार्य है। आॅनलाइन होने के कारण इस वेबसाईट पर पंजीकृत शिकायतों को भारत सरकार द्वारा भी अनुश्रवण किया जाता है।

उन्होंने दूसरी योजना पैनिक बटन के बारे में कहा कि महिला सुरक्षा के लिए यह बेहद अहम योजना है।  पैनिक बटन में पुलिस कंट्रोल रूम और महिला हेल्प लाइन के नंबर रहेंगे। इस मौके पर अलग अलग जिलों से आई महिलाओं को सुरक्षा बटन प्रदान किये गए व कार्यक्रम में मौजूद सभी महिला पत्रकारों को भी रेखा आर्या ने सुरक्षा बटन भेंट किये ।

महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती रेखा आर्या ने बताया कि पैनिक बटन को मोबाइल एप से भी लिंक किया जा सकता है। इसे कीरिंग, ब्रैसलेट अथवा अन्य किसी रूप में महिलाएं अपने पास रख सकती हैं। यह डिवाइस इंटरनेट और जीपीएस से लिंक रहेगी, जिसमें 12 मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड होंगे। यह नंबर परिजनों, मित्रों व अध्यापकों आदि किसी के भी हो सकते हैं। इस बटन को दबाने में तीन सेकंड लगेंगे। खतरा होने पर बटन दबाते ही 30 सेकंड के भीतर खतरे का संदेश सभी रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर चला जाएगा ।

इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती रेखा आर्या ने अनुसचिव दीपक कुमार द्वारा लिखे एवं गाये गये ‘बेटी बचाओ बेटी पढाओ’ गीत की सीडी को लाॅंच किया तथा उन्होंने प्रस्तुत गीत की प्रशंसा करते हुए भविष्य में भी उनसे महिला एवं बाल विकास के कार्यक्रमों में जनजागरूकता के लिये सहयोग करने की अपेक्षा की। महिला एवं बाल विकास मंत्री द्वारा गीत के रचियता श्री दीपक कुमार एवं निर्माता श्री पीयूष त्यागी एवं मनुज त्यागी को शाॅल भेंट कर सम्मानित किया गया। श्री दीपक कुमार द्वारा निःशुल्क गीत भेंट किया गया।

इस अवसर पर कार्यक्रम अध्यक्ष क्षेत्रीय विधायक श्री उमेश शर्मा काऊ ने कार्यक्रम को उपयोगी बताते हुए महिलाओं एवं बच्चों के विकास के लिये मंत्रालय द्वारा किये जा रहे प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि आज लाॅंच किये गये इन योजनाओं से महिलाओं के संरक्षण में और सहयोग मिलेगा।

इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव राधा रतूडी ने कहा कि महिला एवं बाल विकास मंत्री के नेतृत्व में प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं के कल्याण के लिये अनेक महत्वपूर्ण कदम उठाये गये है। उन्होंने महिला कल्याण विभाग द्वारा संचालित प्रधानमंत्री मात्र वंदना योजना, राष्ट्रीय पोषण अभियान, मुख्यमंत्री बाल पोषण अभियान, नन्दा गौरा योजना, आजीविका योजना आदि के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

इस अवसर पर निदेशक सुश्री झरना कमठान, राज्य परियोजना निदेशक सुश्री आरती बलोदी सहित समस्त विभाग के अधिकारी एवं महिलाएं उपस्थित थी।