खेल महाकुम्भ- 2018 की अद्यतन प्रगति की समीक्षा की

12

26 Dec  सचिवालय में खेल महाकुम्भ- 2018 की अद्यतन प्रगति की समीक्षा युवा कल्याण मंत्री अरविन्द पाण्डे द्वारा समस्त जिलाधिकारियों के साथ विडियो कानफ्रेसिंग के माध्यम से की गयी। युवा कल्याण विभाग द्वारा आयोजित खेल महाकुम्भ के अन्तर्गत चार चरणों में होने वाली यह प्रतियोगिताएं न्याय पंचायत, विकास खण्ड, जनपद व राज्य स्तर पर युवा कल्याण विभाग द्वारा आयोजित की जा रही है। न्याय पंचायत स्तर की प्रतियोगिता सम्पन्न की जा चुकी है।

खेल मंत्री श्री पाण्डे ने समस्त जिलाधिकारियों तथा जिला खेल अधिकारियों को निर्देश दिये कि विकास के द्वितीय चरण में विकास खण्ड स्तर पर होने वाली प्रतियोगिताओं का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार कर प्रतियोगिताओं में खिलाड़ियों की अधिक से अधिक सहभागिता सुनिश्चित करायी जायें। उन्होंने विकास खण्ड एवं जिला स्तर पर वितरित की जाने वाली पुरस्कार की धनराशि प्रतियोगिता समापन के अवसर पर प्रतियोगिता स्थल में ही वितरित करने के निर्देश दिये।

खेल महाकुम्भ की राज्य स्तरीय प्रतियोगिता 8 जनवरी, 2019 से 21 फरवरी, 2019 तक होगी। खेल महाकुम्भ में न्याय पंचायत स्तर के खिलाड़ियों का चयन प्रथम चरण में 670 न्याय पंचायतों में सम्पन्न हुआ, तथा द्वितीय चरण में 95 विकास खण्ड में प्रतियोगिता प्रारम्भ हो रही है।

ज्ञातव्य है कि माननीय खेल मंत्री द्वारा खेलो के प्रोत्साहन के लिए विजेता खिलाड़ियों के पुरस्कार राशि में बढ़ोत्तरी के आदेश से प्रतिभागी खिलाड़ियों में उत्साह देखने को मिला है, तथा न्याय पंचायत स्तर पर खिलाड़ियों की संख्या में वृद्वि हुयी है। वर्तमान में ब्लांक स्तर पर प्रथम, द्वितीय तथा तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले खिलाड़ी को 300 रु0, 200रु0, 150रु0 तथा जिला स्तर में प्रथम, द्वितीय तथा तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले खिलाड़ी को 700 रु0, 500रु0, 300रु0  तथा राज्य स्तर प्रथम, द्वितीय तथा तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले खिलाड़ी को 1000रु0, 600रु0, 400रु0 दिया जा रहा है, जो पूर्व में इन उपरोक्त पुरस्कार राशियों का आधा था।

खेल मंत्री अरविन्द पाण्डे ने बैठक में निदेशक खेल प्रताप शाह से आगामी राष्ट्रीय ,खेल के आयोजन की तैयारी को लेकर विस्तार से चर्चा की।

इस अवसर पर उपनिदेशक खेल सतीश कुमार सार्की, युवा कल्याण उपनिदेशक अजय अग्रवाल, शक्ति सिंह, तथा सहायक निदेशक एस. जयराज उपस्थित थे।