उत्तराखण्ड के दूरस्थ गाँवों में सीएम एप ने पहुचाई बिजली, पहली बार बिजली से रोशन हुए कई गाँव

130

14 Dec  यह संभव हुआ है प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत के आफिशियल सीएम एप पर दर्ज शिकायत से। मोबाइल एप पर दर्ज शिकायत का संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री कार्यालय ने त्वरित कार्यवाही करते हुए उत्तराखंड पावर कारपोरेशन लिमिटेड (यूपीसीएल) के उच्चाधिकारियों को जिन गाँवों में बिजली नहीं पहुची हैं वहां बिजली पहुँचाने के लिए निर्देशित किया था ।

ग्रामीण विधुतीकरण समाधान क्रमांक -1

रतगाँव  क्षेत्र के निवासी प्रदीप सिंह फरस्वाण ने उत्तराखण्ड सीएम एप पर रतगांव की जनसमस्याओं के संबंध में शिकायत दर्ज की थी। शिकायत में कहा गया था कि आजादी के इतने साल बाद भी विकासखंड थराली के अंतर्गत दूरस्थ क्षेत्र रतगांव में रह रहे चार सौ से अधिक परिवार आज भी बिजली की रोशनी से वंचित हैं।

राज्य गठन से पहले व बाद में गांव को विद्युतीकरण को लेकर शासन प्रशासन से लगातार मांग की जाती रही है।  इतनी बड़ी आबादी वाले इस गांव में अब तक बिजली की कोई व्यवस्था नहीं थी।

मुख्यमंत्री जी के निर्देश पर ग्राम रतगाँव, जिला चमोली में विद्युतीकरण का कार्य पूर्ण हो चुका है और वहां आजादी के बाद पहली बार बिजली पहुची है।

ग्रामीण विधुतीकरण समाधान क्रमांक -2

जिला-चमोली के ग्राम रुईसाण पो0ओ0-डुंगरी थराली, निवासी विक्रम सिंह ने सीएम एप पर शिकायत दर्ज कराई थी कि आज भी हमारा गांव इस चका-चैंध दुनिया से दूर है, किसी एक कोने में जहाँ कि आज तक बिजली नहीं है।

मुख्यमंत्री जी के निर्देश पर ग्राम रुईसाण पो0ओ0-डुंगरी थराली, जिला- चमोली में विधुतीकरण का कार्य पूर्ण हो चुका है।

ग्रामीण विधुतीकरण समाधान क्रमांक -3

चमोली जिले के थराली ब्लाक में कोलपूड़ी गांव से मुकेश सिंह फरस्वाण ने सीएम एप पर शिकायत दर्ज कराई थी कि मेरे गांव में अभी भी लोग बिजली से वंचित है।

मुख्यमंत्री जी के निर्द्देश पर चमोली जिले के थराली ब्लाक में कोलपूड़ी गांव  में विधुतीकरण का कार्य पूर्ण हो चुका है।

ग्रामीण विधुतीकरण समाधान क्रमांक -4

जिला-चमोली  के ग्राम देवसारी तोक गर्जाखर्क सिरगाड, ब्लॉक देवाल, तहसील थराली ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उनके गाँव के लिए लगभग 10 साल पहले बिजली की लाइन बिछाई गई थी। लेकिन यह बिजली की लाइन ठीक ढ़ंग से तथा ठीक जगह से नहीं बिछाई गई थी जिस कारण से लाइन बिछाने के कुछ ही समय बाद लाइन पूरी तरह छतीग्रस्त हो गई थी। इन तोपों में रह रहे लगभग 500 परिवार आज तक बिजली की समस्या से जूझ रहे हैं।

मुख्यमंत्री जी के निर्देश पर  ग्राम देवसारी तोक गर्जाखर्क सिरगाड, ब्लॉक देवाल, तहसील थराली, जिला-चमोली में विधुतीकरण का कार्य पूर्ण हो चुका है।

ग्रामीण विधुतीकरण समाधान क्रमांक -5

ऐसे ही शिकायत कुमाऊं मंडल के चम्पावत जिले बाली गाँव, पटन गाँव, ब्लाक पाटी, के निवासी जगदीश सिंह ने सीएम एप पर शिकायत दर्ज कराई थी कि उनके गाँव में अभी तक बिजली नहीं पहुँची है।

मुख्यमंत्री जी के निर्देश पर चम्पावत जिले के बाली गाँव, पटन गाँव, ब्लाक पाटी में विधुतीकरण का कार्य पूर्ण हो चुका है।

सीएम कार्यालय को यूपीसीएल अधिकारियों ने बताया है कि उपरोक्त गाँवों में अब बिजली पहुंच गयी है। यूपीसीएल गांव को केंद्र पोषित दीन दयाल ग्राम ज्योति विद्युतीकरण योजना के जरिए बिजली से रोशन किया गया है।

उपरोक्त सभी शिकायतकर्ताओं और ग्रामीणों ने अपने गाँवों में पहली बार बिजली पहुंचाने पर मुख्यमंत्री उत्तराखंड श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत का आभार जताया है