प्रथम विश्व युद्ध के विक्टोरिया क्रॉस दरवान सिंह नेगी के चित्र पर पुष्प चक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित की

14

28 Oct  मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत रविवार को वार मेमोरियल राजकीय इण्टर कॉलेज, कर्णप्रयाग के शताब्दी समारोह में शामिल हुए। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने प्रथम विश्व युद्ध के विक्टोरिया क्रॉस दरवान सिंह नेगी के चित्र पर पुष्प चक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित की तथा विश्व युद्ध में शहीद हुए सैनिको को भी नमन किया। शताब्दी समारोह कार्यक्रम में पहुचने पर मुख्यमंत्री का शताब्दी समारोह समिति द्वारा स्मृति चिह्न भेंट कर सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि वीसी दरवान सिंह जी के योगदान को कभी भुलाया नही जा सकता क्योंकि उन्होंने ब्रिटिश सरकार से जागीर न मांगते हुए अपने क्षेत्र के लिए स्कूल की मांग की थी, जिसका हजारों छात्रों को फायदा मिल चुका है। उन्होंने कहा कि हमारी यह भूमि देवभूमि के साथ ही वीरों की भी भूमि है। इतिहास गवाह है जब जब दुश्मनो ने हमारी सीमा क्षेत्रों में घुसपैठ करनी चाही हमारे वीरों ने उनका मुँहतोड़ जबाब दिया है।

वीसी दरवान सिंह की अपनी भूमि के प्रति लगाव व योगदान की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि हरिद्वार से कर्णप्रयाग तक रेल लाईन निर्माण की भी उनकी मांग रही थी, जिसका अब निर्माण आरम्भ हो गया है। उन्होंने कहा कि गुरुजनों के आशीर्वाद व त्याग से इस विद्यालय के सैकड़ो बच्चे आज देश के विभिन्न क्षेत्रों में सेवाएं दे रहे है जो कि हम सबके लिये गर्व की बात है।

कार्यक्रम में वीसी दरवान सिंह नेगी के सुपुत्र सेवानिवृत्त कर्नल बलबीर सिंह नेगी ने कहा कि पिताजी की सोच सर्वजन हिताय सर्वजन सुखाय की थी।
इस अवसर पर कर्णप्रयाग के विधायक श्री सुरेंद्र सिंह नेगी, थराली की विधायक श्रीमती मुन्नी देवी शाह, कर्णप्रयाग के पूर्व विधायक श्री अनिल नौटियाल सहित अन्य गणमान्य लोग, क्षेत्रीय जनता व जनप्रतिनिधि आदि उपस्थित थे।