कोटद्वार में केन्द्रीय विद्यालय की स्थापना के लिए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडे़कर से शिक्षा मंत्री डाॅ0 हरक सिंह रावत ने की मांग

55

10 August  प्रदेश के वन एवं वन्य जीव, पर्यावरण एवं ठोस, अपशिष्ट निवारण, श्रम, सेवायोजन, प्रशिक्षण, आयुष एवं आयुष शिक्षा मंत्री डाॅ0 हरक सिंह रावत ने नई दिल्ली में केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडे़कर से मुलाकात किया।

मुलाकात में, कोटद्वार, जनपद पौड़ी गढ़वाल में केन्द्रीय विद्यालय के निर्माण के सम्बन्ध में विचार-विमर्श किया। मंत्री ने केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री को अवगत कराया है कि कोटद्वार में, गढ़वाल राईफल की छावनी स्थापित है जिनमें हजारों की संख्या में पूर्व सैनिक तथा सेवारत सैनिकों के परिवार निवास करते हैं। लगभग 01 लाख भूतपूर्व सैनिकों के अतिरिक्त कोटद्वार में भारत सरकार के कर्मचारी भी कार्यरत हैं और कोटद्वार की जनता द्वारा लगातार कोटद्वार में केन्द्रीय विद्यालय की स्थापना की माॅग की जा रही है।

इस विषय को रखते हुए वन मंत्री केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री से विचार-विमर्श किया कि केन्द्रीय विद्यालय के लिए कोटद्वार में ग्राम पश्चिमी झण्डीचैड़, पट्टी हल्दूखाता के अन्तर्गत 9.94 एकड़ जिला परिषद के स्वामित्व की भूमि जिलाधिकारी द्वारा उपलब्ध करा दी गयी है।

विचार-विमर्श के दौरान कोटद्वार में केन्द्रीय विद्यालय की स्थापना हेतु संतोष मल्ल, आयुक्त केन्द्रीय विद्यालय संगठन को आवश्यक निर्देश दिये हैं कि तत्काल इस सम्बन्ध में कार्यवाही प्रारम्भ की जाय। मा0 मानव संसाधन विकास मंत्री के निर्देशों के क्रम में अब कोटद्वार में केन्द्रीय विद्यालय की लम्बे समय से की जा रही मांग समाप्त हो जायेगी, और कोटद्वार में कन्द्रीय विद्यालय बनाने का मार्ग प्रशस्थ हो जायेगा।

वन एवं पयार्वरण मंत्री हरक सिंह रावत ने प्रबन्ध निदेशक, इकोटूरिज्म अनूप मलिक एंव सुखदेव सिंह आई.एफ.एस. (नोडल अधिकारी उत्तराखण्ड) नई दिल्ली के साथ महानिदेशक वन भारत सरकार के साथ नई दिल्ली में उत्तराखण्ड वन भूमि, वन्य जीव एवं वनों के सीमाकंन के सम्बन्ध में विचार-विमर्श किया। उन्होने कैम्पा के मध्यम से उत्तराखण्ड को दी जा रही फडिंग के बारे में भी चर्चा की, महानिदेशक वन ने अवगत कराया कि उत्तराखण्ड के लिए रू0 118 करोड़ तत्काल उत्तराखण्ड सरकार को स्वीकृत कर दिया गया है, और अगले सितम्बर तक रू0 2113 करोड़ उत्तराखण्ड के लिए उपलब्ध कराये जाने का भी आश्वासन दिया गया है। इसके अतिरिक्त उत्तराखण्ड के वनों के सीमाकंन को डिजीटल किये जाने पर भी विस्तार से चर्चा की गयी।

श्रम मंत्री हरक सिंह रावत ने केन्द्रीय श्रम मंत्री संतोष गगंवार से भी मुलाकात किया। मुलाकात में उत्तराखण्ड में राज्य कर्मचारी बीमा निगम का सोसायटी के अन्तर्गत गठन किये जाने के साथ ही कोटद्वार में सुपर स्पेशलिटी चिकित्सालय (मेडिकल कालेज) के स्थापना हेतु भारत सरकार से अनुदान दिये जाने के सम्बन्ध में विस्तार से विचार-मिमर्श किया गया। केन्द्रीय श्रम मंत्री ने आश्वासन दिया है कि कोटद्वार में सुपर स्पेशलिटी चिकित्सालय (मेडिकल कालेज) के स्थापना हेतु भारत सरकार से आवश्यक धनराशि शीघ्र स्वीकृत कर दी जायेगी।