ग्लोबल कल्चर एण्ड एजुकेशनल गतिविधियों से सम्बन्धित विषयों पर की चार्चा

70

30 April प्रदेश के सिंचाई, बाढ़ नियंत्रण, लघु-सिंचाई, वर्षा जल संग्रहण, जलागम प्रबन्धन, भारत-नेपाल उत्तराखण्ड नदी परियोजनाएं, पर्यटन, तीर्थाटन, धार्मिक मेले एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज से विधान सभा स्थित कार्यालय कक्ष में ग्लोबल कल्चर एण्ड एजुकेशनल गतिविधियों से सम्बन्धित ग्लैक्सी इण्टर नेशनल एजूकेशन फाउण्डेशन लन्दन मैनेजिंग डायरेक्टर एन0बाला0कुमार ने मुलाकात की।

यह मुलाकात, उत्तराखण्ड राज्य को योगा कैपिटल के रूप में स्थापित करने  एवम  पर्यटन, संस्कृति को रोजगार से जोड़ने के लिये था। एन0 बाला0 कुमार ने बताया कि इस संस्था के माध्यम से उत्तराखण्ड को विदेशी पर्यटक, विदेशी तकनीक हस्तान्तरण, कौशल विकास के माध्यम से पर्यटन, संस्कृति से विदेशी आय और युवाओं के रोजगार की सम्भावना है।

योगा में ट्रेंड टीचर विदेशों में जाकर, योगा के विभिन्न रूपों को प्रमाणिक रूप में प्रस्तुत करेंगे। योगा, सर्टिफिकेशन कोर्स, डिग्री की आवश्कता देश-विदेश में है। इसके माध्यम से राज्य के युवाओं को रोजगार एवं आय के अवसर प्राप्त होगा।

संस्था के सलाहकार डाॅ0 सुनील मग्गो ने बताया कि यू0जी0सी0 की तरह ब्रिटिश एक्रीडीटेशन काउन्सिल से मान्यता प्राप्त ग्लैक्सी इण्टर नेशनल एजूकेशन फाउण्डेशन लन्दन में कार्य कर रही है। यह संस्था उत्तराखण्ड में टूरिस्ट गाइड, ट्रैवल एजेंट के रिसर्च सेन्टर के रूप में, कौशल विकास क्षेत्र में सर्टिफिकेट डिप्लोमा एण्ड डिग्री कोर्स के माध्यम से युवाओं को देश और विदेश में रोजगार अवसर प्रदान करेगी।