कुंभ 2021 हेतु 2200 करोड़ के कार्य प्रस्तावित

113

23 January मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने नगर विकास मंत्री श्री मदन कौशिक के साथ मंगलवार को सचिवालय में हरिद्वार कुंभ मेला- 2021 की तैयारियों की समीक्षा की।

बैठक में बताया गया कि 2021 कुंभ के लिये कुल 2200 करोड़ के कार्य प्रस्तावित किये जा रहे हैं जिससे 85 प्रतिशत कार्य स्थायी प्रकृति के हैं। संपूर्ण मेला क्षेत्र लगभग 130 वर्ग किमी है। हरिद्वार, देहरादून, टिहरी और पौड़ी जनपदों के भू-भाग मेला क्षेत्र में आयेंगे। फिलहाल मेला क्षेत्र कुल 32 सेक्टर्स में विभाजित है। वर्ष 2010 के कुंभ पर 600 करोड़ रूपये व्यय हुए थे। सिंचाई विभाग द्वारा 2021 कुंभ हेतु 36.62 करोड़ का कार्य प्रस्तावित है जिसमें कांगड़ा घाट का विस्तारीकरण, दीन दयाल पार्किग से चण्डीपुल तक गंगा किनारे आस्था पथ निर्माण, ग्राम कांगडी में घाट निर्माण, गंगनहर के दायें धनौरी-सिडकुल लिंकमार्ग का निर्माण कार्य प्रमुख है।
पीडब्ल्यू द्वारा 1607 करोड़ रूपये के कार्य प्रस्तावित हैं जिससे 1565 करोड़ की लागत से हरिद्वार रिंग रोड का निर्माण प्रमुख है। पावर कारपोरेशन द्वारा 149 करोड रूपये के कार्य प्रस्तावित किय गये है जिसमें मुख्य कार्य, प्रमुख मेला क्षेत्र में 33 के.वी., 11 के.वी. व एलटी लाइनों को भूमिगत करना है। इसके साथ ही कई ओवरहेड लाइनों को शिफ्ट भी किया जायेगा।
स्वास्थ्य विभाग द्वारा 170 करोड़ रूपये के कार्य प्रस्तावित है। इन कार्यों से 30 करोड़ की लागत से रोशनाबाद में 200 बेड का जिला हास्पिटल तथा 24 करोड की लागत से भूपतवाला में 50 बेड का हास्पिटल निर्माण सम्मिलित है। इसके साथ ही बहादराबाद अस्पताल को उच्चीकृत कर 30 बेड का अस्पताल बनाया जायेगा। जल संस्थान द्वारा 11 करोड रूपये के प्रस्तावित कार्य बताये गये। पेयजल निगम द्वारा 19 करोड रूपये का प्रस्ताव दिया गया है।