खेल महाकुम्भ के तैयारियों की समीक्षा बैठक की

149

Published on 2/11/2017  प्रदेश के विद्यालयी शिक्षा, प्रौढ़़ शिक्षा, संस्कृत शिक्षा, खेल, युवा कल्याण एवं पंचायती राज मंत्री अरविन्द पाण्डेय ने सचिवालय स्थित सभाकक्ष में खेल महाकुम्भ के तैयारियों की समीक्षा के दौरान समस्त जनपदों के जिलाधिकारियों से वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से वार्ता की। इस दौरान खेल महाकुम्भ के व्यापक प्रचार-प्रसार पर बल देते हुए आॅनलाइन पंजीकरण हेतु मोबाइल एप को लांच किया।

यह भी निर्देश दिया गया कि समाचार पत्रों में प्रकाशित आॅफलाइन पंजीकरण फार्मेट को भी पंजीकरण के लिए स्वीकार किया जायेगा। मंत्री ने कहा खेल विभाग, शिक्षा विभाग और पंचायती राज विभाग के आपसी समन्वय से इस खेल का आयोजन किया जायेगा। न्याय पंचायत एवं ब्लाॅक स्तर पर शिक्षा विभाग आयोजन का नोडल विभाग होगा।

जनपद में जिलाधिकारी आयोजन के अध्यक्ष होंगे। प्रत्येक स्तर पर एक समिति का गठन किया जायेगा। न्याय पंचायत एवं ब्लाॅक स्तर, जनपद एवं राज्य स्तर पर आकर्षक पुरस्कार दिये जायेंगे। प्रत्येक स्तर पर प्रथम 3 विजेताओं के अतिरिक्त 2 अतिरिक्त विजेता भी घोषित किये जायेंगे। इस प्रकार आयोजन के दौरान लगभग कुल 2 हजार प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को चिन्हीत किया जायेगा। इनकी प्रतिभा का उपयोग आगामी राष्ट्रीय खेलों के दौरान भी किया जायेगा।

स्कूल प्रदेश के आई0ए0एस0 अधिकारियों से यह अपेक्षा की कि बच्चों एवं खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ाने हेतु इस आयोजन में प्रतिभाग करेंगे।
इस आयोजन का उद्देश्य प्रदेश में खेल के प्रति माहौल तैयार करना और प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को अपनी प्रतिभा प्रदर्शित करने हेतु मंच तैयार करना है।
इस अवसर पर सचिव खेल डाॅ0 भूपिन्द्र कौर औलख, निदेशक युवा कल्याण एवं खेल प्रशान्त आर्य, उपनिदेशक युवा कल्याण एवं खेल विभाग शक्तिसिंह, समीक्षाधिकारी युवा कल्याण खेल दिशान्त सिंह इत्यादि उपस्थित थे।